Expressnews7

ईपीएस-95 के अंतर्गत आने वाले सभी 60 लाख पेंशनभोगियों को न्यूनतम मासिक पेंशन 7,500 रुपये

ईपीएस-95 के अंतर्गत आने वाले सभी 60 लाख पेंशनभोगियों को न्यूनतम मासिक पेंशन 7,500 रुपये

2018-01-11 10:29:06
ईपीएस-95 के अंतर्गत आने वाले सभी 60 लाख पेंशनभोगियों को न्यूनतम मासिक पेंशन 7,500 रुपये

नई दिल्ली: कर्मचारी पेंशन योजना-95 के अंतर्गत आने वाले पेंशनभोगियों के लिए सरकार जल्द ही राहत ला सकती है. हो सकता है कि जल्द ही उन्हें न्यूनतम 5,000 रुपये मासिक मिल सकता है और यह अंतत: 7,500 रुपये हो सकता है. इस मामले को आगे बढ़ा रहे संगठन ने श्रम मंत्रालय से मिले आश्वासन के आधार पर यह कहा है.
कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) द्वारा प्रबंधित कर्मचारी पेंशन योजना 1995 (ईपीएस-95) के तहत फिलहाल पेंशन 1,000 रुपये मासिक है. ‘ऑल इंडिया ईपीएस-95 पेंशनर्स संघर्ष समिति ने एक बयान में कहा कि श्रम मंत्रालय ने एक बैठक प्रतिनिधमंडल को उक्त आश्वासन दिया.

प्रतिनिधियों के साथ मंत्रालय की छह दिसंबर 2017 को बैठक हुई थी. संगठन के अनुसार मंत्री ने समिति को आश्वस्त किया कि न्यूनतम पेंशन 7,500 रुपये मासिक करने समेत उनकी अन्य मांगों पर प्रधानमंत्री के साथ-साथ वित्त मंत्रालय के साथ चर्चा की जाएगी.

पेंशनभोगियों के संगठन ने मांग की थी कि ईपीएस-95 के अंतर्गत आने वाले सभी 60 लाख पेंशनभोगियों को न्यूनतम मासिक पेंशन 7,500 रुपये तथा अंतरिम राहत के रूप में 5,000 रुपये दिये जाएं. संगठन ने कहा कि श्रम पर संसद की सलाहकार समिति ने भी उनकी मांगों पर पांच जनवरी को हुई अपनी बैठक में चर्चा की. इससे पहले, संघर्ष समिति ने कहा था कि करीब 60 लाख पेंशनभोगी हैं. इनमें से 40 लाख को 1,500 रुपये मासिक से भी कम पेंशन मिल रहा है जबकि सरकार के पास 3 लाख करोड़ रुपये का पेंशन कोष है.


नरेंद्र मोदी सूरज हैं अखिलेश यादव फ्यूज बल्ब-- धर्मपाल सिंह

नरेंद्र मोदी सूरज हैं अखिलेश यादव फ्यूज...

नरेंद्र मोदी सूरज हैं अखिलेश यादव फ्यूज बल्ब--...

बिचैलियों को हर हाल में गेहूं खरीद केन्द्रों से दूर रखा जाए--C.M

बिचैलियों को हर हाल में गेहूं खरीद केन्द्रों...

बिचैलियों को हर हाल में गेहूं खरीद केन्द्रों से...

बिचैलियों को हर हाल में गेहूं खरीद केन्द्रों से दूर रखा जाए--C.M

बिचैलियों को हर हाल में गेहूं खरीद केन्द्रों...

बिचैलियों को हर हाल में गेहूं खरीद केन्द्रों से...

निशुल्क योग शिविरों में योग के साथ साथ होगी क्षेत्रीय विकास पर चर्चा

निशुल्क योग शिविरों में योग के साथ साथ...

निशुल्क योग शिविरों में योग के साथ साथ होगी क्षेत्रीय...

सेप्टेज एवं ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के लिए नीति बनायी जायेगी---सुरेश खन्ना

सेप्टेज एवं ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के लिए...

सेप्टेज एवं ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के लिए नीति बनायी...

लोक अदालत के सफल आयोजन की जिम्मेदारी न्यायिक अधिकारियों की -ब्रजेश पाठक

लोक अदालत के सफल आयोजन की जिम्मेदारी न्यायिक...

लोक अदालत के सफल आयोजन की जिम्मेदारी न्यायिक अधिकारियों...

ExpressNews7