Expressnews7

टी20 सीरीज में बांग्‍लादेश के खिलाफ मिली जीत के बाद टीम इंडिया को राहत

टी20 सीरीज में बांग्‍लादेश के खिलाफ मिली जीत के बाद टीम इंडिया को राहत

2018-03-09 07:03:51
टी20 सीरीज में बांग्‍लादेश के खिलाफ मिली जीत के बाद टीम इंडिया को राहत

नई दिल्‍ली: निधास ट्रॉफी त्रिकोणीय टी20 सीरीज में बांग्‍लादेश के खिलाफ मिली जीत के बाद टीम इंडिया ने राहत की सांस ली है. पहले मैच में मेजबान श्रीलंका के खिलाफ मिली हार के बाद भारत के लिए इस मैच में जीत हासिल करना जरूरी हो गया था. भारतीय टीम ने बांग्‍लादेश के खिलाफ यह मैच भले ही आसानी से 6 विकेट से जीता लेकिन इसके बावजूद टीम के प्रदर्शन को उच्‍च स्‍तर का नहीं माना जा सकता. खासकर गेंदबाजी के दौरान तो भारतीय टीम बिखरी-बिखरी नजर आई. मैच के दौरान कुछ ऐसे कमजोर क्षेत्र नजर आए जिसमें खिलाड़ि‍यों को तुरंत सुधार करना जरूरी है. टीम के कप्‍तान रोहित शर्मा ने भी मैच में टीम की फील्डिंग को स्‍तरीय नहीं माना. इन 4 क्षेत्रों में भारतीय टीम को सुधार की जरूरत है..टीम के नए खिलाड़ि‍यों को इस दिशा में खास ध्‍यान देना होगा.

इस मैच में भारतीय टीम की फील्डिंग बेहद खराब रही. भारतीय फील्‍डरों ने करीब आधा दर्जन कैच टपकाए. ऐसा लगा कि भारतीय फील्‍डरों के हाथ में बटर लगा हुआ है और गेंद उनके हाथ से फिसल रही है. क्षेत्ररक्षण के दौरान भारतीय खिलाड़ि‍यों के बीच तालमेल की कमी दिखा. दो खिलाड़ि‍यों के बीच गिरे कैचों के दौरान भी किसी खिलाड़ी ने 'कॉल' (कैच पकड़ने को लेकर) नहीं किया, इस कारण ये मौके भी हाथ से जाते रहे. सुरेश रैना जैसे 'सेफ फील्‍डर' ने भी मैच में आसान कैच छोड़ा. वाशिंगटन सुंदर और विजय शंकर से भी कैच ड्रॉप हुए. ग्राउंड फील्डिंग भी बिखरी-बिखरी नजर आई. भारतीय टीम को अगले मैचों में फील्डिंग सुधारनी होगी.

मैच में भारतीय खिलाड़ि‍यों की गेंदबाजी में अनुशासन नहीं दिखा. हालांकि उन्‍होंने जल्‍दी-जल्‍दी बांग्‍लादेश के विकेट झटके लेकिन इस दौरान वाइड के रूप में अतिरिक्‍त रन भी विपक्षी टीम को तोहफे में दिए. मैच में भारतीय गेंदबाजों ने 11 वाइड फेंकी. हरफनमौला विजय शंकर ने दो नोबॉल भी फेंकी. भारतीय गेंदबाजों ने इस तरह 13 अतिरिक्‍त गेंदें फेंकी. नजदीकी मुकाबले में यह कमजोरी टीम को भारी पड़ सकती है.

रोहित शर्मा इन दोनों मैचों में जल्‍दबाजी दिखाते हुए आउट हुए. श्रीलंका के खिलाफ मैच में तो वे खाता भी नहीं खोल पाए. दूसरे मैच में वे 17 रन की पारी खेल पाए. उन्‍होंने सेट हुए बिना बहुत अधिक आक्रामक रुख अख्तियार करने का खामियाजा भुगता. रोहित की बल्‍ले से नाकामी के कारण रन बनाने का जिम्‍मा काफी कुछ शिखर धवन पर आ गया. वैसे भी, इस सीरीज में भारतीय बल्‍लेबाजी का भार बहुत कुछ शिखर धवन और मनीष पांडे ने ही उठाया है.


खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के लम्बित प्रकरणों को समयबद्ध ढंग से निपटाये-अनिता भटनागर जैन

खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के लम्बित...

खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के लम्बित प्रकरणों...

मुस्लिम समाज को देश की मुख्यधारा में जोड़ने का प्रयास कर रहे इंद्रेश कुमार

मुस्लिम समाज को देश की मुख्यधारा में जोड़ने...

मुस्लिम समाज को देश की मुख्यधारा में जोड़ने का प्रयास...

विकास के पथ पर में तेजी से आगे बढ़ रहा उत्त्तर प्रदेश-वित्त मंत्री

विकास के पथ पर में तेजी से आगे बढ़ रहा उत्त्तर...

विकास के पथ पर में तेजी से आगे बढ़ रहा उत्त्तर प्रदेश-वित्त...

अखिलेश यादव  ने विभिन्न कालेजों के समाजवादी छात्रसभा के विजयी पदाधिकारियों से की भेंट

अखिलेश यादव ने विभिन्न कालेजों के समाजवादी...

अखिलेश यादव ने विभिन्न कालेजों के समाजवादी छात्रसभा...

उत्तर प्रदेश मे 30 करोड का हुआ नमक धोटाला,दो अलग अलग एजेन्सियो ने दो रेट मे खरीदे नमक

उत्तर प्रदेश मे 30 करोड का हुआ नमक धोटाला,दो...

उत्तर प्रदेश मे 30 करोड का हुआ नमक धोटाला,दो अलग...

प्रस्तावित निजी विश्वविद्यालय अधिनियम-2018 के संबंध में डा0 दिनेश शर्मा की अध्यक्षता में बैठक सम्पन्न

प्रस्तावित निजी विश्वविद्यालय अधिनियम-2018...

प्रस्तावित निजी विश्वविद्यालय अधिनियम-2018 के संबंध...

ExpressNews7