Expressnews7

ट्रंप ने ग्लोबल ट्रेड वार की शुरुवात की ,भारत को दी धमकी

ट्रंप ने ग्लोबल ट्रेड वार की शुरुवात की ,भारत को दी धमकी

2018-03-10 06:27:27
 ट्रंप ने ग्लोबल ट्रेड वार की शुरुवात की ,भारत को दी धमकी

नई दिल्ली-संयुक्त राज्य अमेरिका (यूएसए) के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने आखिरकार अमेरिका में स्टील पर 25 फीसद और एल्यूमीनियम पर 10 फीसद आयात शुल्क लगाने वाले कानून पर हस्ताक्षर कर ग्लोबल ट्रेड वार की औपचारिक शुरुआत कर दी। कनाडा और मैक्सिको को नए कानून के दायरे से बाहर रखा गया है। अमेरिका ने भारत और चीन समेत अन्य देशों को यह भी धमकी दी है कि अगर किसी ने अमेरिकी कदम का जवाब देने की जुर्रत की, तो उस पर ‘वास्तविक कर’ यानी उस देश में अमेरिकी स्टील उत्पादों पर लगने वाले आयात शुल्क के बराबर शुल्क लगाया जाएगा।

ट्रंप ने कहा है कि घरेलू उद्योग जगत कई वर्षो से ‘अनुचित’ कारोबारी गतिविधियों का सामना कर रहा है और उसे बचाने के लिए यह कदम जरूरी है। उन्होंने कहा, ‘अगर स्टील नहीं होगा, तो देश नहीं बचेगा। वर्षो से हमारे उद्योगों को निशाना बनाया जाता रहा है। हमें अपने उद्योगों को बचाना होगा।’

वर्तमान में दुनियाभर से अमेरिका को किए जा रहे स्टील और एल्यूमीनियम निर्यात पर अमेरिका में नाम मात्र को आयात शुल्क लगता है, जिसकी मात्र ज्यादातर मामलों में पांच फीसद से भी कम है। दूसरी तरफ भारत, चीन और कई अन्य देशों में अमेरिकी स्टील और एल्यूमीनियम उत्पादों पर 75 फीसद तक आयात शुल्क लगाए जा रहे हैं।

अमेरिका ने कहा है कि भारत ने अमेरिकी हार्ले डेविडसन बाइक पर 50 फीसद आयात शुल्क लगाया, तो अमेरिका भी भारत से आयातित बाइक पर आयात शुल्क बढ़ाकर 50 फीसद कर देगा, जो अभी फ्री है। अमेरिका से आयातित कारों पर चीन 25 फीसद टैक्स लगाता रहा है, जबकि अमेरिका सिर्फ 2.5 फीसद आयात शुल्क लगाता है।

स्टील और एल्यूमीनियम उत्पादों पर आयात शुल्क लगाने वाले संयुक्त राज्य अमेरिका (यूएसए) ने भारत और चीन को खुली धमकी दी है। ट्रंप ने कहा, ‘आने वाले दिनों में हम रेसिप्रोकल टैक्स यानी ‘जवाबी कर’ पर काम करेंगे। मेरे प्रशासन के पहले वर्ष में जवाबी कर का मंच सज चुका है। ऐसा नहीं होगा कि भारत या चीन हमारे उत्पादों पर 75 या 25 फीसद आयात शुल्क लगाएं और हम उनके सामान मुफ्त में आने दें। अगर वे हम पर 75 फीसद शुल्क लगाएंगे, तो हम भी उतना ही शुल्क लगाएंगे।’

आयात शुल्क बढ़ाने वाले दस्तावेजों पर हस्ताक्षर के वक्त ट्रंप ने कई बार चीन का नाम लेते हुए कहा कि हालांकि चीन के साथ अमेरिका बेहद मधुर रिश्तों की राह पर है। ट्रंप ने कहा, ‘लेकिन अमेरिका हर वर्ष चीन के हाथों पांच अरब डॉलर (करीब 32,500 करोड़ रुपये) का कारोबार गंवा रहा है। हमें कुछ करना होगा।’ हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि चीन से उनकी बातचीत चल रही है, लेकिन हमें अपनी राजकोषीय स्थिति मजबूत करनी होगी।

इंजीनियरिंग एक्सपोर्ट प्रमोशन काउंसिल के चेयरमैन रवि सहगल ने कहा कि अमेरिका के इस फैसले के खिलाफ यूरोप व चीन जवाबी कार्रवाई कर सकते हैं। इससे भारत से इंजीनियरिंग उत्पादों के निर्यात को धक्का लगेगा। सहगल ने कहा, ‘प्रत्यक्ष रूप से न सही, लेकिन परोक्ष रूप से निर्यात को झटका लग सकता है। अमेरिकी फैसले से इंजीनियरिंग उत्पादों के दाम अस्थिर हो जाएंगे।


प्रदेश के समस्त जनपदों की मुख्य नदियों में विसर्जित की जाएंगी अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां-मुख्यमंत्री

प्रदेश के समस्त जनपदों की मुख्य नदियों...

प्रदेश के समस्त जनपदों की मुख्य नदियों में विसर्जित...

लोकसभा और चार राज्यों में चुनाव दिसंबर में एक साथ कराने में आयोग सक्षम- चुनाव आयुक्त

लोकसभा और चार राज्यों में चुनाव दिसंबर...

लोकसभा और चार राज्यों में चुनाव दिसंबर में एक साथ...

जैसे-जैसे चुनाव की तिथियां नजदीक आ रही हैं, भाजपा नेतृत्व की घबराहट बढ़ती जा रही है- अखिलेश यादव

जैसे-जैसे चुनाव की तिथियां नजदीक आ रही...

जैसे-जैसे चुनाव की तिथियां नजदीक आ रही हैं, भाजपा...

A.D से हो रहा है महाराजगंज मे भष्ट्राचार,नदियो की गहराई और परकोपाइन मे है लम्बा धालमेल

A.D से हो रहा है महाराजगंज मे भष्ट्राचार,नदियो...

A.D से हो रहा है महाराजगंज मे भष्ट्राचार,नदियो की...

 उ0प्र0 में देश का सबसे बड़ा ‘वर्कफोर्स’ मौजूद: राष्ट्रपति

उ0प्र0 में देश का सबसे बड़ा ‘वर्कफोर्स’ मौजूद:...

उ0प्र0 में देश का सबसे बड़ा ‘वर्कफोर्स’ मौजूद: राष्ट्रपति

कालाहांडी होने से बचा लखनऊ,बेसहारा महिला को समय पर मदद कर उसके पति के शव को भेजा गया सीतापुर

कालाहांडी होने से बचा लखनऊ,बेसहारा महिला...

कालाहांडी होने से बचा लखनऊ,बेसहारा महिला को समय...

ExpressNews7