Expressnews7

एयरटेल पेमेंट बैंक लिमिटेड पर पांच करोड़ रुपये जुर्माना लगाने का फैसला-आरबीआइ

एयरटेल पेमेंट बैंक लिमिटेड पर पांच करोड़ रुपये जुर्माना लगाने का फैसला-आरबीआइ

2018-03-10 06:47:42
एयरटेल पेमेंट बैंक लिमिटेड पर पांच करोड़ रुपये जुर्माना लगाने का फैसला-आरबीआइ

भारतीय रिजर्व बैंक ने नो युअर कस्टमर यानी केवाईसी और परिचालन संबंधी दिशानिर्देशों के उल्लंघन के लिए एयरटेल पेमेंट बैंक पर पांच करोड़ रुपये जुर्माना लगाया है। बैंकों के दस्तावेजों की जांच करने के बाद रिजर्व बैंक ने जुर्माना लगाया है। जांच में पता चला कि ग्राहक से स्पष्ट सहमति लिये बगैर ही उनके बैंक खाते खोल दिये गए।

आरबीआइ ने एक बयान में कहा कि उसने सात मार्च को एयरटेल पेमेंट बैंक लिमिटेड पर पांच करोड़ रुपये जुर्माना लगाने का फैसला किया क्योंकि परिचालन और केवाईसी संबंधी दिशानिर्देशों का उल्लंघन मिला। ग्राहकों की सहमति के बिना एयरटेल बैंक में खाता खोले जाने की शिकायतों और यह मामला चर्चाओं में आने के बाद रिजर्व बैंक ने 20-22 नवंबर 2017 को बैंका का निरीक्षण किया था।

रिजर्व बैंक की जांच रिपोर्ट के अनुसार 23 लाख से ज्यादा ग्राहकों के एयरटेल पेमेंट बैंक के खातों में 47 करोड़ रुपये जमा हुए। जबकि उन्हें जानकारी नहीं थी कि उनका बैंक खाता खोल दिया गया है। निरीक्षण दौरे की रिपोर्ट और संबंधित दस्तावेजों से यह स्पष्ट हो गया कि बैंक ने परिचालन और केवाईसी संबंधी निर्देशों का उल्लंघन किया। इसके बाद आरबीआइ ने बैंक को 15 जनवरी को कारण बताओ नोटिस जारी किया। बैंक के जवाब और व्यक्तिगत सुनवाई में दिये गये तर्को को सुनने के बाद आरबीआइ ने माना कि उस पर लगे आरोप सही हैं। इसलिए उस पर जुर्माना लगाने का फैसला किया गया। रिजर्व बैंक ने स्पष्ट किया है कि नियामकीय अनुपालन में गड़बड़ी के लिए जुर्माना लगाया गया है। लेकिन उसके लेनदेन और बैंक के ग्राहकों के समझौते की वैधता पर इसका कोई असर नहीं होगा।

पिछले साल एयरटेल के मोबाइल उपभोक्ताओं की ओर से शिकायतें आने लगीं कि उनकी जानकारी के बगैर बैंक खाते खोल दिये गये और एलपीजी सब्सिडी वगैरह उनके मूल खाते में जमा होने के बजाय इस बैंक के खाते में जमा होने लगी। सब्सिडी मूल खाते में न जाने और नए खाते में जमा होने की शिकायतों ने तूल पकड़ा तो आरबीआइ के अलावा भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण ने भी जांच शुरू कर दी। आधार से मोबाइल नंबर के पुनर्सत्यापन के समय ही बैंक खाते खोले गए। इस तरह यूआइडीएआइ के आधार संबंध नियमों का भी उल्लंघन होने के आरोप लगे।


खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के लम्बित प्रकरणों को समयबद्ध ढंग से निपटाये-अनिता भटनागर जैन

खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के लम्बित...

खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के लम्बित प्रकरणों...

मुस्लिम समाज को देश की मुख्यधारा में जोड़ने का प्रयास कर रहे इंद्रेश कुमार

मुस्लिम समाज को देश की मुख्यधारा में जोड़ने...

मुस्लिम समाज को देश की मुख्यधारा में जोड़ने का प्रयास...

विकास के पथ पर में तेजी से आगे बढ़ रहा उत्त्तर प्रदेश-वित्त मंत्री

विकास के पथ पर में तेजी से आगे बढ़ रहा उत्त्तर...

विकास के पथ पर में तेजी से आगे बढ़ रहा उत्त्तर प्रदेश-वित्त...

अखिलेश यादव  ने विभिन्न कालेजों के समाजवादी छात्रसभा के विजयी पदाधिकारियों से की भेंट

अखिलेश यादव ने विभिन्न कालेजों के समाजवादी...

अखिलेश यादव ने विभिन्न कालेजों के समाजवादी छात्रसभा...

उत्तर प्रदेश मे 30 करोड का हुआ नमक धोटाला,दो अलग अलग एजेन्सियो ने दो रेट मे खरीदे नमक

उत्तर प्रदेश मे 30 करोड का हुआ नमक धोटाला,दो...

उत्तर प्रदेश मे 30 करोड का हुआ नमक धोटाला,दो अलग...

प्रस्तावित निजी विश्वविद्यालय अधिनियम-2018 के संबंध में डा0 दिनेश शर्मा की अध्यक्षता में बैठक सम्पन्न

प्रस्तावित निजी विश्वविद्यालय अधिनियम-2018...

प्रस्तावित निजी विश्वविद्यालय अधिनियम-2018 के संबंध...

ExpressNews7