Expressnews7

प्रदेश मे लगातार हो रहे एनकाउन्टर के बाऊजुद अपराधियो के हौसले बुलन्द,वकील को दिनदहाडे मारी गोली

प्रदेश मे लगातार हो रहे एनकाउन्टर के बाऊजुद अपराधियो के हौसले बुलन्द,वकील को दिनदहाडे मारी गोली

2018-05-10 09:03:18
प्रदेश मे लगातार हो रहे एनकाउन्टर के बाऊजुद अपराधियो के हौसले बुलन्द,वकील को दिनदहाडे मारी गोली

सरकार ने वकील के परिवार को 20 लाख मुआवजे का किया एलान

लखनऊ सेन्ट्रल बार के पूर्व महामन्त्री अखिलेश जायसवाल ने कहा प्रदेश मे कानून व्यवस्था ध्वस्त
मृतक अधिवक्ता परिवार को मिले 50 लाख मुआवजा-अखिलेश जायसवाल
परिवार के एक सदस्य को मिले नौकरी- अखिलेश जायसवाल

इलाहाबाद -प्रदेश मे लगातार हो रहे एनकाउन्टर के बाऊजुद अपराधियो के हौसले बुलन्द है। दो दिन पहले भाजपा नेता पवन केसरी की हत्या के बाद आज वकील राजेश श्रीवास्तव की बाइक सवार बदमाशो ने दिनदहाडे हत्या कर दी। गुरुवार को पाश इलाके मनमोहन पार्क के पास एडवोकेट राजेश कुमार श्रीवास्तव की दो बाइक सवारों ने गोली मारकर हत्या कर दी। यह घटना एैसे समय पर हुई जब प्रदेश के मुख्य सचिव और डीजीपी अपराध व कानून व्यवस्था की समीक्षा करने इलाहाबाद आए हुए हैं।

घटना सुबह 10.30 बजे आसपास की है। 45 वर्षीय राजेश श्रीवास्तव अपनी बाइक से कचहरी जा रहे थे। मनमोहन पार्क के पास दो अपराधियों ने पीछाकर उनकी कनपटी में गोली मारी और मौके पर ही उनकी मौत हो गयी। खास यह कि जिस स्थान पर वारादात हुई वहां से थोड़ी देर पहले ही मुख्य सचिव व डीजीपी का काफिला निकला था।

इस घटना से वकीलों में भारी आक्रोश है। सैकड़ों वकीलों ने सड़क जाम कर प्रदर्शन शुरू कर दिया है। एसएसपी आफिस के सामने बस में आग लगा दी है। अस्पताल में हंगामा चल रहा है, उनका कहना है कि इलाहाबाद में अपराध बेकाबू है। अपराधियों में कानून का डर नहीं रहा। दो दिन पहले ही फूलपुर में भाजपा नेता पवन केसरी की हत्या हुई थी। कुछ दिन पहले यूको बैंक में डकेती पड़ी और लुटेरे 17 लॉकर काटकर 10 करोड़ के गहने लूट ले गए। अभी तक इनमें एक भी गिरफ्तारी नहीं हुई है। दो पहले ही नवाबगंज में स्कूल प्रबंधक को सरे बाजार पीटकर मार डाला गया।

वकील की हत्या के पीछे एसएसपी आकाश कुलहरि जमीन का विवाद बता रहे हैं। उनका कहना है कि राजेश श्रीवास्तव जमीन किसी पुराने केस में पैरवी कर रहे थे। सबसे अहम कि डीजीपी शहर में अपराध की समीक्षा कर रहे और बीच सड़क पर वकील की हत्या हो गयी। वकीलों का आक्रोश देख पूरे शहर की फोर्स बुला ली गयी है।  सरकार ने इलाहाबाद मे मारे गये वकील के परिवार को 20 लाख रूपये देने की धोषणा की।

लखनऊ सेन्ट्रल बार के पूर्व महामन्त्री ने अखिलेश जायसवाल ने कहा कि इलाहाबाद मे वकील की हत्या से यह साबित हो गया कि प्रदेश मे कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नही है। उन्होने कहा 24 धन्टे के अन्दर अगर हत्यारो को पकडा नही गया तो प्रदेश भर के अधिवक्ता सरकार के खिलाफ आन्दोलन करने को मजबूर होगे। उन्होने मृतक अधिवक्ता राजेश श्रीवास्तव के परिवार के लोगो को 50 लाख मुआवजा और परिवार के एक सदस्य को नौकरी देने की सरकार से मॉग की।


पर्यटन जहां एक ओर रोजगार देता है, वहीं स्थानीय स्तर पर लोगों का जीवन स्तर भी उपर उठाता है: मुख्यमंत्री

पर्यटन जहां एक ओर रोजगार देता है, वहीं स्थानीय...

पर्यटन जहां एक ओर रोजगार देता है, वहीं स्थानीय...

राजनाथ सिंह सरकारी बंगला छोड़ने वालों में सबसे आगे , यहां होगा नया ठिकाना

राजनाथ सिंह सरकारी बंगला छोड़ने वालों...

राजनाथ सिंह सरकारी बंगला छोड़ने वालों में सबसे...

आयुष को अंग्रेजी भाषा में मिला स्थान

आयुष को अंग्रेजी भाषा में मिला स्थान

आयुष को अंग्रेजी भाषा में मिला स्थान

इस बार लक्ष्य से ज्यादा होगा गेहॅू खरीद,खाद्य विभाग ने अब तक खरीदा 70 प्रतिशत गेहूँ

इस बार लक्ष्य से ज्यादा होगा गेहॅू खरीद,खाद्य...

इस बार लक्ष्य से ज्यादा होगा गेहॅू खरीद,खाद्य विभाग...

वाराणसी पुल हादसा : जांच समिति ने सौंपी मुख्यमंत्री को रिपोर्ट

वाराणसी पुल हादसा : जांच समिति ने सौंपी...

वाराणसी पुल हादसा : जांच समिति ने सौंपी मुख्यमंत्री...

वाराणसी मामले मे सेतू निगम से हटाये गये मित्तल,जे0के0श्रीवास्तव को मिला चार्ज

वाराणसी मामले मे सेतू निगम से हटाये गये...

वाराणसी मामले मे सेतू निगम से हटाये गये मित्तल,जे0के0श्रीवास्तव...

ExpressNews7