Expressnews7

आंधी तूफान से प्रभावित जिलों में विद्युत आपूर्ति सामान्य करने हेतु युद्धस्तर पर करें कार्य-प्रमुख सचिव ऊर्जा

आंधी तूफान से प्रभावित जिलों में विद्युत आपूर्ति सामान्य करने हेतु युद्धस्तर पर करें कार्य-प्रमुख सचिव ऊर्जा

2018-05-14 17:22:54
आंधी तूफान से प्रभावित जिलों में विद्युत आपूर्ति सामान्य करने हेतु युद्धस्तर पर करें कार्य-प्रमुख सचिव ऊर्जा

लखनऊ-- प्रदेष में आंधी तूफान से अनेक जिलों में विद्युत व्यवस्था प्रभावित हुयी है। प्रभावित क्षेत्रों में पुर्ननिर्माण कार्य युद्धस्तर पर कराकर आपूर्ति व्यवस्था सामान्य करने का प्रयास किया जा रहा है। प्रदेष में अधिकांष स्थानों पर आपूर्ति सामान्य भी हो गयी है। प्रभावित क्षेत्रों में युद्ध स्तर पर कार्यकर विद्युत आपूर्ति को जल्दी से जल्दी सामान्य करने के निर्देष दिये है।
यह जानकारी देेते हुये प्रमुख सचिव ऊर्जा एवं उ0प्र0 पावर कारपोरेषन के अध्यक्ष आलोक कुमार ने बताया है कि प्रदेष के ऊर्जा मंत्री पंडित श्रीकान्त षर्मा के निर्देषों के अनुपालन में आंँधी-तूफान से क्षतिग्रस्त हुए टावर, पोल तथा लाइनों की पुनरस्थापना का कार्य तेजी से किया जा रहा है।
आज उन्होंने प्रदेष के सभी वितरण निगमों के प्रबन्ध निदेषकों से बात कर आंधी तूफान में हुयी क्षति ग्रस्तता की जानकारी ली तथा उसे युद्धस्तर पर ठीक करके आपूर्ति सामान्य करनें के निर्देष दिये। प्रदेष के सभी डिस्काॅम एवं केस्को के प्रबन्ध निदेषकों को निर्देषित किया गया है कि वे स्वयं मानीटरिंग करें। विद्युत कार्यो में कही कोई लापरवाही बरदास्त नहीं की जायेगी।
आॅंधी तूफान से आगरा डिस्काम सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है। वहाॅ पर 11 अप्रैल, 28 अप्रैल, 2 मई, 6 मई  तथा 13 मई को आॅधी तूफान से जबरदस्त क्षति हुयी है। विभाग के अधिकारी लगातार विद्युत आपूर्ति को सामान्य रखने के लिये युद्धस्तर पर कार्य कर रहें हैं। पुर्ननिर्माण कार्यों में सामान की कमी न हो इसके लिये स्टेवायर, पीसीसी तथा एस0टी0पी0 पोल, विभिन्न फिटिंग की आपात कालीन आपूर्ति की व्यवस्था की गयी है। अधिकारी एवं कर्मचारियों को मुख्यालय छोड़ने से मना किया गया है। स्थानान्तरण आदेषों का क्रियान्वयन भी 20 मई तक रोक दिया गया है।
130 किमी प्रतिघण्टा की रफ्तार से आयी आंॅधी व बारिष के कारण सैंकड़ों पेड़ टूूटकर विद्युत लाइनों व पोलों पर गिर जाने से औरेया, इटावा, फिरोजाबाद, मथुरा व आगरा के ग्रामीण क्षेत्रों के साथ-साथ षहरों की भी विद्युत आपूर्ति बुरी तरह प्रभावित हुई है तथा 33 केवी के लगभग 50 उपकेन्द्रों से सम्बन्धित क्षेत्र इससे प्रभावित हुए हैं।
विद्युत अधिकारियों व कर्मचारियों ने रातभर युद्धस्तर पर कार्य कर 50 उपकेन्द्रों में से 40 उपकेन्द्रों की विद्युत आपूर्ति आज प्रातः तक सुचारू कर दी गयी है तथा षेश 10 उपकेन्द्रों की आपूर्ति आज रात्रि तक बहाल कर दी जायेगी। आगरा डिस्काॅम के अन्र्तगत आॅधी से प्रभावित क्षेत्रों में लगभग 2100 पोल क्षतिग्रस्त हुए हैं, जिन्हें सही करने का कार्य युद्धस्तर पर जारी है।
आगरा षहर की विद्युत आपूर्ति को सामान्य करने के लिए टोरन्ट के अधिकारियों को कड़े निर्देश दिये गये हैं।  अभी तक आधे षहर की आपूर्ति चालू की जा सकी हैं रात्रि तक पूरे आगरा षहर की आपूर्ति बहाल हो जाने का आश्वासन आगरा की विद्युत व्यवस्था देख रही कम्पनी ने दिया है। आगरा षहर के 11 के0वी0 के 255 पोशकों में से 102 पोशक आज प्रातः तक ब्रेकडाउन में थे जिनमें से अभी तक 12 पोशकों की आपूर्ति बहाल कर दी गयी है।


गोरखपुर में मुख्यमंत्री ने ‘आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना’ का किया शुभारम्भ

गोरखपुर में मुख्यमंत्री ने ‘आयुष्मान...

गोरखपुर में मुख्यमंत्री ने ‘आयुष्मान भारत-प्रधानमंत्री...

स्वच्छता को जीवन का अनिवार्य अंग बनायें-नगर विकास मंत्री

स्वच्छता को जीवन का अनिवार्य अंग बनायें-नगर...

स्वच्छता को जीवन का अनिवार्य अंग बनायें-नगर विकास...

 वैश्विक शिखर सम्मेलन-2018 के आयोजन के संबंध में रोडमैप तैयार करने पर हुई चर्चा

वैश्विक शिखर सम्मेलन-2018 के आयोजन के संबंध...

वैश्विक शिखर सम्मेलन-2018 के आयोजन के संबंध में रोडमैप...

यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 7 फरवरी से

यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 7 फरवरी...

यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 7 फरवरी से

कैराना उपचुनाव लडने की पेशकश BJP ने की थी

कैराना उपचुनाव लडने की पेशकश BJP ने की थी

कैराना उपचुनाव लडने की पेशकश BJP ने की थी

राष्ट्रीय पुस्तक मेला और धानी चुनरिया के तत्वाधान में हुआ सांस्कृतिक कार्यक्रम

राष्ट्रीय पुस्तक मेला और धानी चुनरिया...

राष्ट्रीय पुस्तक मेला और धानी चुनरिया के तत्वाधान...

ExpressNews7