Expressnews7

सच्ची धटना पर आधारित निशंक की पुस्तक केदारनाथ का मुख्यमंत्री ने किया विमोचन

सच्ची धटना पर आधारित निशंक की पुस्तक केदारनाथ का मुख्यमंत्री ने किया विमोचन

2018-05-17 17:15:46
सच्ची धटना पर आधारित निशंक की पुस्तक केदारनाथ का मुख्यमंत्री ने किया विमोचन

वर्ष 2013 में केदारनाथ धाम में आयी आपदा की सच्ची घटनाओं पर आधारित है यह पुस्तक
लखनऊ-सच्ची धटना पर आधारित पुस्तक ‘केदारनाथ का विमोचन आज प्रदेश के मुख्यमन्त्री ने किया। इस किताब के लेखक उत्तराखण्ड राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री एवं सांसद डॉ0 रमेश पोखरियाल ‘निशंक’ है।
यह पुस्तक वर्ष 2013 में उत्तराखण्ड के केदारनाथ धाम में आयी आपदा की सच्ची घटनाओं पर आधारित है। पुस्तक का भोजपुरी अनुवाद प्रो0 ए0एन0 वर्मा द्वारा किया गया है। मुख्यमंत्री जी द्वारा इस अवसर पर डॉ0 निशंक को ‘साहित्य गौरव’ सम्मान से विभूषित किया गया। डॉ0 निशंक को यह सम्मान मुक्ति मिशन, वाराणसी द्वारा प्रदान किया गया है।
इस अवसर पर अपने विचार व्यक्त करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि केदारनाथ की त्रासदी ने यह दिखाया कि प्रकृति के साथ खिलवाड़ करने पर उसका रौद्र रूप भी देखना पड़ सकता है। इस घटना से मानव को प्रकृति के साथ तादात्म्य बना कर रखने की सीख लेनी चाहिए। केदारनाथ की घटना पर आधारित सच्ची कहानियों की रचनात्मक प्रस्तुति के लिए डॉ0 निशंक की सराहना करते हुए उन्होंने कहा कि यह पुस्तक केदारनाथ और भोजपुरी से सम्बन्धित है। केदारनाथ धाम मेरी जन्मभूमि से तथा भोजपुरी भाषा मेरी कर्मभूमि से जुड़ी हुई है। यह पुस्तक मेरी जन्मभूमि और कर्मभूमि को जोड़ती है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि लेखन व्यक्ति की रचनात्मकता को प्रदर्शित करता है। लेखन से व्यक्ति की रचनाधर्मिता सामने आती है। इस मामले में डॉ0 निशंक अत्यन्त समृद्ध हैं। अपनी व्यस्तता के बावजूद वे साहित्य साधना हेतु समय निकाल लेते हैं, जो उनकी रचनात्मक ऊर्जा को दिखाता है। उन्होंने भरोसा जताया कि डॉ0 निशंक की यह कृति भावी पीढ़ी को अपनी धरोहर को जानने-समझने के लिए महत्वपूर्ण मार्गदर्शिका साबित होगी।