Expressnews7

सरकार JE/AES जैसे संक्रामक रोगों पर प्रभावी रोकथाम को लेकर बेहद गंभीर-सिद्धार्थ नाथ सिंह

सरकार JE/AES जैसे संक्रामक रोगों पर प्रभावी रोकथाम को लेकर बेहद गंभीर-सिद्धार्थ नाथ सिंह

2018-06-27 13:51:57
सरकार JE/AES जैसे संक्रामक रोगों पर प्रभावी रोकथाम को लेकर बेहद गंभीर-सिद्धार्थ नाथ सिंह

लखनऊ--प्रदेश के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह जी ने कहा कि राज्य सरकार JE/AES जैसे संक्रामक रोगों पर प्रभावी नियंत्रण एवं इनकी रोकथाम को लेकर बेहद गंभीर है। उन्होंने कहा कि JE/AES पर प्रभावी नियंत्रण एवं रोकथाम हेतु स्वास्थ्य विभाग ने कमर कस ली है और दस्तक अभियान के द्वितीय चरण के अंतर्गत आगामी 2 जुलाई से ‘विशेष संचारी रोग नियंत्रण कार्यक्रम’ प्रारम्भ किया जायेगा, जो 31 जुलाई तक JE/AES से प्रभावित प्रदेश के 38 जनपदों में चलेगा। 

श्री सिंह आज जनपथ स्थित विकास भवन में प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य के कार्यालय कक्ष में आयोजित विभागीय समीक्षा बैठक में अधिकारियों को निर्देशित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के नेतृत्व/निर्देशन में स्वास्थ्य विभाग द्वारा बस्ती एवं गोरखपुर मंडल के जनपदों में स्थापित च्प्ब्न् तथा म्ज्ब् को अपग्रेड करने तथा नए च्प्ब्न् एवं मिनी च्प्ब्न् की स्थापना करने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि निर्धारित समय के अंतर्गत च्प्ब्न्ध्म्ज्ब्  एवं मिनी च्प्ब्न् का कार्य पूर्ण न होने पर सम्बंधित जनपदों के मुख्य चिकित्सा अधिकारी/मुख्य चिकित्सा अधीक्षक के विरुद्ध कड़ी कारवाई की जाएगी। इस अवसर पर उन्होंने यह भी बताया कि माननीय मुख्यमंत्री जी के द्वारा ‘मुख्यमंत्री आर0ओ0 पेयजल योजना’ शुरू की गई है, जिसके तहत श्रम्ध्।म्ै से प्रभावित गोरखपुर एवं बस्ती मंडल के जनपदों के साथ-साथ बुंदेलखंड के सभी जनपदों को स्वच्छ पेयजल की सुविधा उपलब्ध कराई जाएगी।

समीक्षा बैठक के दौरान श्री सिंह ने बताया कि श्रम्ध्।म्ै पर प्रभावी नियंत्रण हेतु स्वास्थ्य विभाग द्वारा पूर्व में दस्तक अभियान के अंतर्गत 2 अप्रैल से 16 अप्रैल के मध्य चलाया गया। विशेष संचारी रोग नियंत्रण पखवाड़ा के दौरान JE/AES से प्रभावित 38 जनपदों के लगभग 34 लाख बच्चों का टीकाकरण किया गया। उन्होंने बताया कि विशेष संचारी रोग नियंत्रण पखवाड़ा कार्यक्रम के माध्यम से श्रम्ध्।म्ै से प्रभावित 38 जनपदों के 74851 कर्मियों (चिकित्सक, आशा एवं एएनएम कार्यकत्री, एम्बुलेंस कर्मी, नोडल शिक्षक, ग्राम प्रधान, मीडिया कर्मी एवं प्ड।ध्प्।च् के प्रतिनिधि) को प्रशिक्षित किया गया। साथ ही दस्तक अभियान के अंतर्गत आशा कार्यकत्रियों द्वारा 27.81 लाख घरों में स्वास्थ्य शिक्षा, 54 हजार से अधिक मात्र बैठक, 86 हजार स्थानों पर 7 लाख से अधिक लोगों को क्लोरीनेशन की शिक्षा तथा 14 हजार से अधिक स्वयं सहायता समूहों की बैठक के माध्यम से श्रम्ध्।म्ै के बारे में जागरूक करते हुए इससे बचाव के उपाय बताये गए। 

बैठक के दौरान श्री सिंह ने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री के कुशल नेतृत्व/निर्देशन में स्वास्थ्य विभाग द्वारा बस्ती एवं गोरखपुर मंडल के जनपदों में स्थापित च्प्ब्न् के अपग्रेडेशन से 25 शैय्याओं तथा म्ज्ब् के अपग्रेडेशन से 10  शैय्याओं की वृद्धि हुई है, वहीं आजमगढ़, मऊ, गोंडा, रायबरेली, हरदोई, सीतापुर में 6 नए च्प्ब्न् की स्थापना से 30 शैय्याओं तथा गोरखपुर, कुशीनगर, देवरिया, महाराजगंज, बस्ती, संत कबीरनगर, सिद्धार्थनगर में 15 मिनी च्प्ब्न् की स्थापना से 45 शैय्याओं की वृद्धि हुई है। श्री सिंह ने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा चिकित्सा एवं स्वास्थ्य के स्तर में किया जा रहे व्यापक सुधार एवं अपग्रेडेशन के फलस्वरूप बीआरडी मेडिकल कॉलेज पहुंचने वाले मरीजों की संख्या में काफी हद तक कमी आई है। उन्होंने कहा कि विगत वर्ष 2017 में बीआरडी  मेडिकल कॉलेज में भर्ती होने वाले मरीजों का प्रतिशत जहाँ 58.8 था वह इस वर्ष जून 2018 तक मात्र 17.3 प्रतिशत रह गया है।  

श्री सिंह ने बताया कि JE/AES पर प्रभावी नियंत्रण एवं रोकथाम हेतु स्वास्थ्य विभाग के साथ-साथ प्रदेश के अन्य विभागों की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। जिसके तहत ग्राम्य विकास विभाग द्वारा 5 लाख से अधिक उथले हैंडपंप का चिह्नीकरण किया गया और 32 हजार इंडिया मार्का 2 हैंडपंप की मरम्मत कराई गई। पंचायती विभाग द्वारा 4.5 लाख से अधिक शौचालयों का निर्माण कराया गया. बेसिक शिक्षा विभाग द्वारा JE/AES के प्रति जागरूकता के उद्देश्य से 88 हजार स्कूल रैली तथा 16 हजार प्रभात फेरी निकाली गई। इसके अतिरिक्त बाल विकास एवं पुष्टाहार विभाग द्वारा 10 हजार से अधिक अति कुपोषित बच्चों को पोषण पुनर्वास केंद्र रेफेर किया गया। 

बैठक में प्रमुख सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य प्रशांत त्रिवेदी, सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य श्रीमती वी.हेकाली झिमोमी, प्रबंध निदेशक एनएचएम पंकज कुमार तथा विशेष सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य नीरज शुक्ला, उमेश मिश्रा एवं नरवेद सिंह उपस्थित थे।

 


यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 7 फरवरी से

यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 7 फरवरी...

यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 7 फरवरी से

कैराना उपचुनाव लडने की पेशकश BJP ने की थी

कैराना उपचुनाव लडने की पेशकश BJP ने की थी

कैराना उपचुनाव लडने की पेशकश BJP ने की थी

राष्ट्रीय पुस्तक मेला और धानी चुनरिया के तत्वाधान में हुआ सांस्कृतिक कार्यक्रम

राष्ट्रीय पुस्तक मेला और धानी चुनरिया...

राष्ट्रीय पुस्तक मेला और धानी चुनरिया के तत्वाधान...

घमण्ड में चूर है  भाजपा सरकार- अखिलेश यादव

घमण्ड में चूर है भाजपा सरकार- अखिलेश यादव

घमण्ड में चूर है भाजपा सरकार- अखिलेश यादव

उत्कृष्ट शिक्षक देने में कहीं ना कहीं विफल हुआ शिक्षा जगत-योगी

उत्कृष्ट शिक्षक देने में कहीं ना कहीं विफल...

उत्कृष्ट शिक्षक देने में कहीं ना कहीं विफल हुआ...

रवीन्द्रालय लान में पुस्तक मेला पांच से,गीतऋषि नीरज को समर्पित होगा बुक फेयर

रवीन्द्रालय लान में पुस्तक मेला पांच से,गीतऋषि...

रवीन्द्रालय लान में पुस्तक मेला पांच से,गीतऋषि...

ExpressNews7